Home CORONA Updates LOCKDOWN3.0 : लॉकडाउन दो सप्ताह के लिए बढ़ाया गया, होम मिनिस्ट्री ने...

LOCKDOWN3.0 : लॉकडाउन दो सप्ताह के लिए बढ़ाया गया, होम मिनिस्ट्री ने जारी की गाइडलाइन

0
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. Courtesy : Google Image

गृह मंत्रालय ने आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 के तहत आदेश जारी कर लॉकडाउन को 4 मई से दो सप्ताह के लिए बढ़ा दिया है

लॉकडाउन की समयसीमा में इजाफा कर दिया गया है. चार मई को समाप्त होने वाले लॉकडाउन2.0 की सीमा को अब 17 मई तक के लिए लागू कर दिया गया है. यानी अब शुरू हो रहा है लॉकडाउन3.0 का दौर. हालांकि, इस बार केंद्र सरकार ने कोरोना के मामलों को देखते हुए ग्रीन, ऑरेंज और रेड ज़ोन की तर्ज पर क्षेत्रों का बंटवारा करते हुए वहां कुछ शर्तों पर राहत देने का फैसला भी किया है. साथ ही, तीनों ही जोन में चंद आवश्यक शर्तों के साथ शराब की दुकानों को भी खोलने का आदेश जारी कर दिवा गया है.

दुकानों के बंद शटर और जमीन पर फैली सूखी पत्तियां सुना रहीं लॉकडाउन की दास्तान.

कम शब्दों में समझें तो केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इस सम्बंध में विस्तृत गाइडलाइन जारी कर दी है. मंत्रालय के मुताबिक, देश में कुछ गतिविधियां पूरे भारत में सभी जोन में बंद रहेंगी. इसमें हवाई मार्ग, रेल, मेट्रो और सड़क मार्ग द्वारा अंतर्राज्यीय आवागमन सहित स्कूलों, कॉलेजों, और अन्य शैक्षिक और प्रशिक्षण/कोचिंग संस्थानों का संचालन शामिल है. साथ ही, रेंज ज़ोन में टैक्सी और कैब एग्रीगेटर्स को एक गाड़ी में केवल एक ड्राइवर और एक यात्री की अनुमति दी जाएगी.

लॉकडाउन के बीच दोपहर में पसरा सन्नाटा.

बता दें कि जिन जिलों में पिछले 21 दिनों से कोरोना वायरस के संक्रमण का एक भी मामला नहीं आता है, उन्हें ग्रीन जोन घोषित कर दिया जाता है. पहले यह समयसीमा 28 दिनों की थी, जिसे केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने घटाकर 21 दिन कर दी.

लॉकडाउन में इन शर्तों के साथ दी गई है छूट…

  • ग्रीन जोन में सभी बड़ी आर्थिक गतिविधियों की छूट दे दी गई है.
  • ग्रीन जोनों में बसें चल सकेंगी, लेकिन बसों की क्षमता 50 प्रतिशत से ज्यादा नहीं होगी. यानी, अगर किसी बस में 50 सीटें हैं तो उसमें 25 से ज्यादा यात्री नहीं चढ़ेंगे.
  • इसी तरह डीपो में भी 50 फीसदी से ज्यादा कर्मचारी काम नहीं करेंगे.
  • केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर जारी आदेश में स्पष्ट कर दिया गया है कि शाम 7 बजे से सुबह 7 बजे तक लोगों की गैर-जरूरी गतिविधियों यानी बेवजह घूमने-फिरने पर पाबंदी रहेगी.
  • हवाई यात्रा, रेल परिचालन, मेट्रो परिचालन, सड़कों से एक राज्य से दूसरे राज्य में प्रवेश बंद रहेगा.
  • स्कूल, कॉलेज और दूसरे शिक्षण संस्थान, ट्रेनिंग/कोचिंग इंस्टिट्यूट नहीं खोले जाएंगे.
  • होटल, रेस्त्रां समेत आतिथ्य सेवा के सारे संस्थान पहले की तरह बंद रहेंगे.
  • सिनेमा हॉल, मॉल, जिम, स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स जैसी भीड़भाड़ वाली जगहें अब भी बंद रहेंगे.
  • सभी जोनों में 65 वर्ष से ज्यादा उम्र के लोगों और डाइबिटीज, हार्ट प्रॉब्लम्स जैसी समस्याओं से ग्रस्त लोगों, गर्भवती महिलाओं, 10 साल से कम उम्र के बच्चों को सिर्फ जरूरी काम या स्वास्थ्य जरूरतों के अलावा बाहर नहीं निकलने दिया जाएगा.

307 जिले ग्रीन जोन में…

देश में कुल 739 जिले हैं, जिनमें से 307 अब भी कोरोना से अछूते हैं यानी 40 प्रतिशत से भी ज्यादा. 3 मई के बाद इन जिलों में फैक्ट्रियों, दुकानों, छोटे-मोटे उद्योगों समेत ट्रांसपोर्ट और अन्य सेवाओं को भी शर्तों के साथ पूरी तरह खोलने की अनुमति दे दी गई है.

ऑरेंज जोन में 284 जिले…

ऑरेंज जोन में उन जिलों को शामिल किया गया है जहां कोरोना मरीजों की संख्या कम है और वहां संक्रमण फैलने का खतरा भी कम है.

129 जिले रेड जोन में…

देश में 130 जिले रेड जोन्स में हैं यानी वहां कोरोना वायरस के हॉटस्पॉट्स हैं. पूरी दिल्ली रेड जोन में है. मुंबई, अहमदाबाद, सूरत जैसे बड़े औद्योगिक केंद्र भी रेड जोन में हैं, जहां रियायतों की गुंजाइश न के बराबर है.

देश में जोन पर डालें एक नज़र…

  1. ध्यान रहे कि पूरे देश को 733 जोनों में बांटा गया है.
  2. इनमें 130 रेड जोन, 284 ऑरेंज जोन जबकि 319 ग्रीन जोन घोषित किए गए हैं.
  3. ग्रीन जोन के जिलों में नाई की दुकानें, सैलून समेत अन्य जरूरी सेवाओं और वस्तुएं मुहैया कराने वाले संस्थान भी 4 मई से खुल जाएंगे.
  4. सिनेमा हॉल, मॉल, जिम, स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स आदि बंद रहेंगे.
  5. वहीं, ऑरेंज जोन में बसों के परिचालन की छूट नहीं होगी, लेकिन कैब की अनुमति होगी.
  6. कैब में ड्राइवर के साथ एक ही पैसेंजर हो सकता है.
  7. ऑरेंज जोन में इंडस्ट्रियल काम शुरू होंगे और कॉम्प्लेक्स भी खुलेंगे.
  8. रेड जोन में नाई की दुकानें, सैलून आदि बंद रहेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here