Home National देश में कोरोना के 3645 मरीज़ों में से 1023 मरकज़ के

देश में कोरोना के 3645 मरीज़ों में से 1023 मरकज़ के

0
देशभर में अब तक इस महाबीमारी से 101 लोगों की गई जान, PM ने की तैयारियों की समीक्षा

भारत में कोरोना मरीज़ों की संख्‍या में तेजी से इजाफा हो रहा है. अब तक देश में कुल 3645 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं इनमें से निजामुद्दीन तब्‍लीगी मरकज़ से जुड़े कोरोना संक्रमितों की संख्‍या 1023 हो चुकी है. वहीं, 101 मरीज़ों की अब तक इस महाबीमारी ने जान ले ली है. वहीं, 215 मरीज़ों ने इस भयावह बीमारी पर जीत हासिल कर ली है.

इस संबंध में केंद्रीय मंत्रालय ने शनिवार को बताया कि देश के 17 राज्यों में तब्लीगी जमात के मरकज में इज्तिमा से जुड़े लोगों में कोविड-19 संक्रमण के 1023 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं. और देश में कोरोना वायरस के करीब 30 प्रतिशत मामले ‘एक खास स्थान’ से जुड़े हैं.
स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने मीडिया ब्रीफिंग में कहा कि भारत में कोविड-19 के मामलों के दुगुना होने की दर अन्य देशों की तुलना में कम है. उन्होंने कहा कि कोविड-19 के संक्रमण के अब तक कुल 2902 मामले सामने आए हैं. शुक्रवार के बाद से 601 मामले बढ़े हैं. संयुक्त सचिव ने कहा कि अब तक कोरोना वायरस संक्रमण के कारण 68 लोगों की मौत हुई है.
उन्होंने कहा कि शुक्रवार के बाद अब तक इसके कारण 12 लोगों की मौत हुई है. उन्होंने बताया कि अब तक 183 लोगों उपचार से ठीक हुए हैं और उन्हें छुट्टी दे दी गई है. साथ ही, देश के 17 राज्यों में तब्लीगी जमात के मरकज में इज्तिमा से जुड़े लोगों में कोविड-19 संक्रमण के 1023 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि उन 17 राज्यों में संक्रमित लोगों का पता लगाने की कवायद तेज की गई है जहां तब्लीगी जमात मरकज से जुड़े मामले सामने आए हैं.
उन्होंने बताया कि देश में कोरोना वायरस के करीब 30 प्रतिशत मामले ‘एक खास स्थान’ से जुड़े हैं. दिल्ली स्थित निजामुद्दीन इलाके में पिछले महीने हुए तब्लीगी जमात के एक आयोजन में हिस्से लेने वालों में कोरोना के संक्रमण मामले सामने आए हैं.

मास्‍क, दस्‍ताने और वेंटीलेटर के लिए PM मोदी सख्‍त

उधर, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को कोविड-19 के खतरों से निपटने संबंधी विभिन्न इंतज़ामों की योजना के लिये गठित अधिकार प्राप्त समूहों की संयुक्त बैठक की अध्यक्षता की. इस दौरान प्रधानमंत्री ने अधिकारियों से मास्क, दस्ताने, वेंटीलेटर, व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण सहित सभी आवश्यक चिकित्सा उपकरणों की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने को कहा.

प्रधानमंत्री कार्यालय के ट्वीट के अनुसार, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देशभर में अस्पतालों की उपलब्धता, अलग-थलग रखने की सुविधा के साथ बीमारी की निगरानी, जांच एवं देखरेख प्रशिक्षण जैसे विषयों एवं तैयारियों की भी समीक्षा की. मोदी ने संबंधित समूहों और अधिकारियों से मास्क, दस्ताने, वेंटीलेटर, व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण सहित सभी आवश्यक चिकित्सा उपकरणों का उत्पादन, खरीद और उपलब्धता सुनिश्चित करने का निर्देश दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here