दिल्‍ली स्‍थित निजामुद्दीन मरकज से निकाले गए जमातियों को आइसोलेशन के लिए ले जाते हुए.

खाने के लिए कर रहे अनुचित मांग, न मानने पर कोरोना वॉरियर्स से कर रहे बदसुलूसकी.

देशभर में विवाद का विषय बन चुके निजामुद्दीन तबलीगी ज़मात के लोगों पर आरोपों की बारिश हो रही है. आरोप है कि वे डॉक्‍टर्स आदि पर थूक रहे हैं.

समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक, उत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी (CPRO) दीपक कुमार ने बताया है, ‘ये लोग सुबह से अनियंत्रित थे और खाने पीने की अनुचित मांग कर रहे थे. उन्होंने क्‍वारंटाइन सेंटर के कर्मचारियों के साथ दुर्व्यवहार किया. इसके अलावा उन्होंने काम करने वाले सभी लोगों और डॉक्टरों पर थूकना शुरू कर दिया. हॉस्टल बिल्डिंग में भी घूम रहे थे.’

बता दें कि दिल्‍ली की निजामुद्दीन इमारत से कुल 2361 लोग निकाले गए थे. इसमें से 617 को अस्पताल में और अन्‍य लोगों को क्‍वारंटाइन में भर्ती कराया गया है. वहीं, मरकज़ (Nizamuddin Markaz) से निकाले गए करीब 2,300 से ज्यादा लोगों को क्‍वारंटाइन सेंटर और अस्पताल में भर्ती कराया गया है. उत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी (CPRO) दीपक कुमार ने बताया कि तबलीगी जमात निज़ामुद्दीन के 167 लोग कल रात 9 बजकर 40 मिनट पर 5 बसों में तुगलकाबाद क्‍वारंटाइन सेंटर पहुंचे थे. 97 लोगों को डीजल शेड ट्रेनिंग स्कूल हॉस्टल में और बाकी 70 को RPF बैरक क्‍वारंटाइन सेंटर में रखा गया है. उन्होंने कहा कि इन लोगों ने कर्मचारियों के साथ बुरा व्यवहार किया और डॉक्टरों समेत अन्य लोगों पर थूकना शुरू कर दिया.

वहीं, इस माहौल के बीच बीजेपी के बड़बोले नेता कपिल मिश्रा ने अपने ट्वीट में दावा करते हुए लिखा है, ‘तबलीगी जमात के लोगों ने अब क्‍वारंटाइन केंद्रों के कर्मचारी और डॉक्टरों पर थूकना शुरू कर दिया. स्पष्ट है, इनका इरादा ज्यादा से ज्यादा लोगों को कोरोना करना और उन्हें मारना है. ये आतंकवादी हैं और इनका आतंकवादियों जैसा इलाज ही करना पड़ेगा.’

बता दें कि निजामुद्दीन मरकज़ से जुड़े लोगों में से (ख़बर लिखे जाने तक) 300 से अधिक कोरोना वायरस (Corona virus) से संक्रमित पाए गए हैं. इनमें से सबसे ज्यादा मामले तमिलनाडु के हैं, जहां 190 लोग COVID-19 पॉजिटिव मिले हैं. मरकज से जुड़ा आंकड़ा 323 तक पहुंच गया है. तमिलनाडु के बाद सबसे ज्यादा 70 लोग आंध्रप्रदेश के हैं. वहीं, दिल्ली के 24, तेलंगाना के 10, अंडमान के 10, असम के पांच, पुड्डुचेरी के दो और कश्मीर से एक मामला सामने आया है. देश के अन्‍य हिस्‍सों में भी जमात से जुड़े लोगों की तलाश की जा रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here