देश को आत्मनिर्भर बनाने पर पुरजोर जोर देते हुए विकास की नई गाथा लिखने का दिया संदेश…

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को देश के 74वें स्वतंत्रता दिवस के मौक़े पर लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र को संबोधित कर तिरंगा फहराया. इससे पहले वे राजघाट गए थे.

देश के 74 वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले के प्राचिर से देश को संबोधित करते हुए कहा कि आत्मनिर्भर भारत देशवासियों का मंत्र बन गया है. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस (COVID-19) महामारी के दौरान 130 करोड़ भारतीयों ने आत्मनिर्भर होने का संकल्प लिया है. पूरे देश के दिमाग में ‘आत्मानिर्भर भारत’ है. यह सपना एक प्रतिज्ञा में बदल रहा है. आज 130 करोड़ भारतीयों के लिए आत्मनिर्भर भारत ‘मंत्र’ बन गया है. मुझे पूरा विश्वास है कि भारत इस सपने को साकार करेगा. मुझे अपने साथी भारतीयों की क्षमता और आत्मविश्वास पर भरोसा है. एक बार जब हम कुछ करने का निर्णय लेते हैं, तब तक हम आराम नहीं करते हैं जब तक कि हम उस लक्ष्य को प्राप्त नहीं कर लेते.

नाम लिए बिना पड़ोसी मुल्कों को चेताया

कोरोना संकट और देश की आर्थिक स्थिति के साथ साथ अंतरराष्ट्रीय संबंधों पर अपनी बात रखी. पीएम मोदी ने चीन और पाकिस्तान का नाम लिए बिना पड़ोसी देशों को भी आगाह किया कि वो भारत को चुनौती न दें. उन्होंने कहा कि देश की संप्रभुता की रक्षा के लिए हमारे वीर जवान क्या कर सकते हैं, देश क्या कर सकता है, ये लद्दाख में दुनिया ने देखा है.

कोरोना की तीन वैक्सीन पर हो रहा काम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश फिलहाल कोरोना महामारी के संकट से जूझ रहा है. पूरी दुनिया में लोग कोरोना की वैक्सीन को लेकर उम्मीद कर रहे हैं. इस बीच प्रधानमंत्री मोदी ने लाल किले से ऐलान किया कि देश में फिलहाल कोरोना की तीन वैक्सीन का ट्रायल चल रहा है. उन्होंने कहा कि देश के वैज्ञानिक फिलहाल कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने में जुटे हुए हैं. वह तपस्या में जुटे हुए हैं.

नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन की रखी नींव

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, आज से देश में एक और बहुत बड़ा अभियान शुरू होने जा रहा है. ये है नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन. नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन, भारत के हेल्थ सेक्टर में नई क्रांति लेकर आएगा.’

ट्रिटमेंट और टेस्ट की पूरी जानकारी इस कार्ड में होगी दर्ज

सरकार की वन नेशन वन हेल्थ कार्ड योजना (One Nation one health card scheme) के जरिए सभी को एक हेल्थ कार्ड बनवाना होगा. इससे होने वाले ट्रिटमेंट और टेस्ट की पूरी जानकारी इस कार्ड में डिजिटली सेव होगी. इसका रिकॉर्ड रखा जा सकेगा. इसका सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि देश में किसी भी हॉस्पिटल या डॉक्टर के पास जब इलाज कराने जाएंगे तो साथ में आपको सारे पर्चे और टेस्ट रिपोर्ट नहीं ले जाना पड़ेगा. डॉक्टर कहीं से भी बैठकर आपकी यूनिक आईडी के जरिए सारा मेडिकल रिकॉर्ड देख सकेगा.

रक्षा मंत्रालय के बयान के अनुसार, प्रधानमंत्री को सलामी देने वाले गार्ड ऑफ़ ऑनर दस्ते में थल सेना, वायु सेना और नौ सेना के साथ ही दिल्ली पुलिस के एक-एक अधिकारी और 24 जवान शामिल रहे. मेजर श्वेता पांडे ने ध्वजारोहण के दौरान प्रधानमंत्री की सहायता की. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सुबह सात बजकर 18 मिनट पर लाल किले के लाहौरी गेट पहुंचे थे. जहां रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और रक्षा सचिव अजय कुमार उनकी अगवानी की. प्रधानमंत्री ने राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा कि आज का दिन वीर शहीदों को नमन करने का दिन है. आज का दिन कोरोना के उन योद्धाओं को भी नमन करने का दिन है जो लगातार सेवा में लगे हुए हैं. कोरोना से कई परिवार प्रभावित हुए हैं और उन सभी परिवारों के लिए हमारी संवेदना है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here