Home National प्रदेश के अस्पतालों और चौराहों पर मौजूद जरूरतमंदों की भूख मिटा रही...

प्रदेश के अस्पतालों और चौराहों पर मौजूद जरूरतमंदों की भूख मिटा रही ‘समाजवादी रसोई’

0

भोजन का वितरण मेडिकल कॉलेज, ट्रामा सेंटर व अन्य जगहों पर तीमारदारों एवं सड़कों पर रह रहे जरूरतमंदों में किया जा रहा है…

लखनऊ. प्रदेश सहित राजधानी के विभिन्न सरकारी अस्पतालों के इर्द-गिर्द लाल टोपी पहने कुछ समाजवाद के सिपाही भूखे और प्यासे लोगों को खाना बांटते नज़र आ रहे हैं. समाजवादी रसोई से जरूरतमंदों की भूख मिटाने की इस मुहिम को सपा सुप्रीमो एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की देखरेख में अंजाम दिया जा रहा है.

इस संबंध में जानकारी देते हुये सपा प्रवक्ता ने मीडिया को बताया कि समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रदेश के अपने सभी पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को अपने-अपने क्षेत्रों में सक्रियता बरतने के निर्देश दिए हैं. इस भोजन का वितरण मेडिकल कॉलेज, ट्रामा सेंटर व अन्य जगहों पर तीमारदारों एवं सड़कों पर रह रहे जरूरतमंदों में किया जा रहा है. प्रदेश के विभिन्न जिलों में ऐसी मुहिम चलाई जा रही है. लाभान्वित हो रहे लोगों ने भी राहत पाकर संतोष जताया है. दो हफ्तों से ज्यादा समय से चल रही सामाजवादी रसोई अब तक हजारों लोगों को खाना खिला चुकी है. इसकी शुरुआत सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देशन में विकास यादव द्वारा की गई थी.

उन्होंने बताया कि सुप्रीमो के स्पष्ट आदेश हैं कि जनता की समस्याओं के बीच समाजवादी पार्टी के पदाधिकारी व कार्यकर्ता जाकर जनता की समस्याओं को दूर करें. इसी को ध्यान में रखते हुए राजधानी लखनऊ में समाजवादी रसोई का आयोजन सपा युवजन सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष विकास यादव एवं सपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व राज्यसभा सांसद किरणमय नंदा ने जरूरतमंदों को गुरुवार को भोजन कराया. इस बारे इन वरिष्ठ सपाई नेताओं ने कहा, ‘समाजवादी रसोई का संचालन किया जा रहा है. जो राजधानी के सभी अस्पतालों में जाकर मरीजों और तीमारदारों के बीच भोजन वितरित करने का काम कर रही है.’

मीडिया से मुखातिब होते हुये सपा नेता विकास यादव ने कहा कि जिस तरह से कोविड-19 संक्रमण के समय पूरे प्रदेश में लॉकडाउन था. ऐसे में मरीजों के साथ-साथ तीमारदारों को खाने-पीने की समस्याओं का सामना करना पड़ रहा था. मरीजों और तीमारदारों की समस्याओं को ध्यान में रखते हुए इस समाजवादी रसोई का शुभारंभ किया गया है. इसके माध्यम से खाने के पैकेट के साथ-साथ ऑक्सीजन के सिलेंडर भी वितरित किए गए.

सपा नेता किरणमय नंदा ने कहा कि समाजवादी रसोई में बनने वाले खाने को राजधानी लखनऊ के सभी प्रमुख चिकित्सालयों में बांटा जाता है. इसमें मेडिकल कॉलेज, डॉ. राम मनोहर लोहिया चिकित्सालय, ट्रामा सेंटर और बलरामपुर हॉस्पिटल प्रमुख हैं, जहां मरीजों और तीमारदारों के बीच सुबह शाम खाने का वितरण किया जाता है ताकि इन तीमारदारों को भूखे पेट न सोना पड़े. इस बाबत विकास ने बताया कि राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देशन में सामाजवादी रसोई की संकल्पना की शुरुआत हुई थी. इसके अंर्तगत ये लक्ष्य रखा गया है कि कोई भी गरीब, असहाय व ज़रूरतमंद व्यक्ति भूखा न रहे. उन्होंने यह भी बताया कि समाजवादी रसोई निरंतर चलती रहेगी और गरीबों का पेट भरती रहेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here