Home Business WHO ने मलेरिया की दवा हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन का कोविड-19 के इलाज के लिए...

WHO ने मलेरिया की दवा हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन का कोविड-19 के इलाज के लिए जारी ट्रायल पर लगाई रोक

0
Photo Courtesy : Google image

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने मलेरिया की दवा हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन का कोविड-19 के इलाज के लिए जारी ट्रायल पर रोक लगा दी है. अहम बात यह है कि विश्व संस्था ने बाकी अन्य दवाओं के ट्रायल को जारी रखा है. उसने केवल हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन के ट्रायल पर ही रोक लगाई है. सोशल मीडिया पर लोग इसके पीछे चीन का हाथ बता रहे हैं.

स्वास्थ्य के क्षेत्र में दुनियाभर के रिसर्च प्रकाशित करने वाली मशहूर पत्रिका ‘द लैंसेट’ ने बीते शुक्रवार को अपनी एक रिपोर्ट में दावा किया था कि हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन (HCQ) लेने वाले कोरोना मरीजों के मौत की संख्या HCQ नहीं लेने वाले मरीजों की संख्या में ज्यादा है. WHO ने 17 देशों के 3,500 कोरोना मरीजों को HCQ दवा के ट्रायल के लिए शामिल किया था.

Photo Courtesy : Google Image

विश्व संस्था ने इसे Solidarity Trial का नाम दिया था. इस ट्रायल का मकसद कोविड-19 के इलाज के लिए दवाई ढूंढना था. ट्रायल में शामिल मरीजों पर हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन या कोविड-19 के इलाज के लिए प्रयोग किए जा रहे तीन और अन्य दवाओं का रैंडमाइज्ड ट्रायल शुरू किया जाता था. मगर केवल हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन के ट्रायल पर ही रोक लगाई गई है. WHO के इस फैसले के पीछे सोशल मीडिया पर लोग चीन का हाथ बता रहे हैं. क्योंकि बाकी किसी अन्य ड्रग के ट्रायल पर रोक नहीं लगी है बल्कि भारत में बनने वाली हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन के ट्रायल पर रोक लगी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here